रोगी

कहानी 1

२५ वर्ष का मुकेश 12 वर्ष से तम्बाकू एवं बीड़ी और देशी शराब का सेवन कर रहे थे मुकेश को एक साल मसालेदार खाना खाने और मुँह खोलने में परेशानी हो रही थी बहुत इलाज करने के बाद भी कोई फायदा नहीं हुआ फिर उसने लखनऊ के [के.एम यू ]के ओरल एवं मैक्सिलो फरियल सर्जन [ osmf विभाग की ओ. पी.डी में डॉ यू.एम पाल को दिखाया जिसमे जांच में पता चला की इसको osmf नाम की बीमारी हैं जिसके इलाज के लिए परेशान किया गया मंगलवार दिनांक १५/१/२०२१ ] मरीज को सुन करके आपरेशन किया गया जिसमे मुँह की मुलायमियत खो चुके है खाल को कटा गया तथा गर्दन की चमड़ी से इसको सही किया इलाज के दौरान चार अकल दाढ़े में पड़ी थी इसको भी निकल गया सफलता पूर्वक आपरेशन के बाद मरीज का मुँह 40 mm खुल गया |

कहानी 2

मुकुरधन जिसकी उम्र 38 वर्ष है वो 7 सालो  से तम्बाकू और शराब का नियमित रूप से सेवन करते थे  सितम्बर 2020 में उनको जीभ में दाहिने तरफ एक छाला हुआ जिसका विभिन सरकारी अस्पतालों में इलाज किया गया पर कोई फायद नहीं हुआ धीरे धीरे छाले का आकार इतना बड़ गया की जीभ के 30%  हिस्से में फैल गया फिर उन्होंने ने kgmu की omfs की opd में dr U.S.Pal   की दिखाया बायोप्सी करने के बाद पता चला की उनको जीभ का कैंसर है बृहस्पतिवार। . दिनांक 4 /1 /2021 को बेहोशी में उनका ऑपरेशन किया गया जिसके दौरान कैंसर से प्रभावित जीभ का हिस्सा निकाल दिया गया एवम सफलतापूर्वक आपरेशन संम्पन्न हुआ मुकुरधन को Followup   के लिए 3 महीने में बुलाया गया  |

रोगी १

रोगी २

रोगी ३

रजिस्ट्रेशन